News

Jharkhand Mukhyamantri Krishi Aashirwad Yojna 2019

नमस्कार दोस्तों ,आज हम इस पोस्ट में झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा चलायी जा रही योजना मुख्यमंत्री  कृषि आशीर्वाद योजना (Mukhyamantri Krishi Aasirwad Yojna )के बारे में जानेंगे। साथ ही यह भी जानेंगे  कि यह योजना किस प्रकार झारखण्ड के किसानों को लाभान्वित करेगी,और इस योजना के तहत किनते और किन किसानो को लाभ प्राप्त होगा ?इस योजना के तहत झारखण्ड के किसानों को मुख्यमंत्री द्वारा कितनी राशि प्रदान की जायेंगी ? यह योजना किस प्रकार गरीब किसानों को राहत दिलाएगी ? मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना ,2019 का उद्देश्य क्या है ? यह योजना किस प्रकार झारखण्ड में कृषि उत्पादों को बढ़ाने में मददगार साबित होगा ?

 झारखण्ड मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना

मुख्यमंत्री रघुबर दास द्वारा  झारखण्ड की किसानों के लिए मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना शुरू (Mukhyamantri Krishi Aaasirwad Yojna) की गयी है। इस योजना के तहत राज्य के किसानों को प्रति वर्ष पांच हज़ार रुपये प्रति एकड़ दिए जायेंगे।  इसके साथ ही केंद्र सरकार द्वारा भी अपने अंतरिम बजट में छोटे किसानों को तीन किस्तों में दो- दो हज़ार रुपये यानि सलाना छह हज़ार रुपये देने की घोषणा की गयी है। इससे झारखण्ड के किसानों को बढ़ी राहत मिलेगी, क्योंकि उन्हें कुल मिलकर दोनों सरकारों की ओर से 11 हज़ार रुपये मिलेंगे। कुल मिलकर हम यह कह सकते है कि यह योजना झारखण्ड के किसानो के लिए बड़ी सौगात लेकर आया है।  इस योजना के तहत 22 लाख 76 हजार किसानों को लाभ पहुँचाना है। इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 2250 करोड़ का बजट प्रस्तावित किया गया है।  इस योजना का उद्देश्य 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना है।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना से जुड़ी खास बातें

  • कृषि निवेश को बढ़ावा देने के राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना शुरू की है।। इसी के तहत  झारखण्ड के प्रत्येक किसान को प्रति एकड़ पांच हज़ार की राशि सहायता के रूप दी जाएगी।
  • मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना द्वारा किसान खरीफ फसल के पूर्व आवश्यकता अनुरूप खाद ,बीज ,कृषि यंत्र ,इत्यादि खरीद सकेंगे। उन्हें खेती करने के लिए दूसरों से क़र्ज़ नहीं लेना पड़ेगा।
  •  राशि किसानों  अथार्थ लाभार्थी को सीधे डीबीटी  (DBT) के माध्यम से खाता में मिलेगा। किसानों को बीज, खाद व अन्य कृषि निवेश खरीदने के लिए दूसरों पर या बैंक पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा।
  • इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा 2250 करोड़ का बजट प्रस्तावित किया गया है। मतलब यह योजना प्रधानमंत्री द्वारा निर्धारित लक्ष्य , 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने में काफी सहायक साबित होगी ।
  • इस योजना के तहत झारखण्ड के लगभग 45 लाख एकड़ कृषि भूमि को शामिल किया जायेगा।

इस सराहनीय योजना का सीधा लाभ किसानों को मिलेगा, और आशा है कि इस कदम से झारखण्ड राज्य के अन्नदाताओं के जीवन में खुशहाली आएगी।

Tags

Neelam Mehta

Hey! this is Neelam Mehta writer at TechFdz.com 😊

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close